नोएडा के सरकारी विद्यालयों में पढ़ने वाले बच्चों के लिए ऑन लाइन वाद -विवाद प्रतियोगिता का किया आयोजन

Noida

प्रेस विज्ञप्ति

नोएडा। सामाजिक संस्था चेतना और एच सी एल फाउंडेशन के तत्वाधान में आज नोएडा (गौतमबुद्धनगर ) के सरकारी विद्यालयों में पढ़ने वाले बच्चों के लिए एक ऑन लाइन वाद -विवाद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसका विषय था “ऑनलाइन शिक्षा के लाभ और समस्याएं ” यह प्रतियोगिता डिजिटल प्लेटफॉर्म ज़ूम के माध्यम से आयोजित की गई इस प्रतियोगिता में नोएडा के 11 सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले और साथ ही साथ वॉश-आई ,चेतना ,कथा और बोध संस्था के बच्चो ने भी प्रतिभाग किया इस प्रतियोगिता में लगभग 110 से अधिक बच्चों ने प्रतिभाग किया।
इस वाद विवाद प्रतियोगिता का संचालन चेतना संस्था के एडवोकेसी हेड भूपेंद्र शांडिल्य ने किया उन्होंने सभी बच्चो को बताया कि आज का यह कार्यक्रम बच्चों के भागीदारी के अधिकार को सुनिश्चित कराने का एक माध्यम है . साथ ही उन्होंने बच्चों को बताया कि आपको दो मिनट का समय दिया जायेगा इसी में आपको अपनी बात रखनी है।साथ ही साथ इस प्रतियोगिता के नियमों से सभी को परिचित कराया ।

organized-online-debate-competition-for-children-studying-government-schools-noida

इसके साथ ही साथ इन बच्चों की प्रतिभा परखने और उनके मत के सभी पहलुओं को जानने के लिए एक जूरी कमेटी भी बनाई गई इस जूरी कमेटी में 4 सदस्य थे जिसमे श्री मती कुसुम कौशिक ( प्रधानाध्यापिका प्राथमिक विद्यालय खोदना खुर्द ) , श्वैरी वैभव (निदेशक शेफ सोसायटी ) , श्री अभय (वालंटियर एच सी एल फाउंडेशन),और श्री पुष्पेन्द्र ( वालंटियर एच सी एल फाउंडेशन ) से थे ।

इस अवसर पर एच सी एल फाउंडेशन से उपस्थित श्री शशांक खरे ने बताया कि आज इस डिबेट कंपटीशन रखने का उद्देश्य यह जानना था कि कोविड-19 की वजह से जो शिक्षा व्यवस्था पूरी तरह से ऑनलाइन हो गई है तो उससे बच्चे किस तरह से प्रभावित हो रहे हैं उसके सभी पहलुओं को बच्चो से ही जानना है । क्योंकि हम सब ऑन लाइन के एक पहलू से परिचित है वह है एक शिक्षक का पक्ष या पढ़ाने वाले का पक्ष।
सभी बच्चों ने बारी बारी से अपने क्रम से इस प्रतियोगिता में भाग लिया और अपनी बात बड़े ही साहस और उत्साह के साथ रखी ।
इस अवसर पर बच्चो का उत्साहवर्धन और उनका मनोबल बढ़ा रही रही श्रीमती सोनल (एच.सी.एल. फाउंडेशन ) ने बताया कि ऐसे अवसर यह बताते है कि सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चे किसी से कम नहीं अगर इन्हें भी अच्छे प्लेटफॉर्म मिले तो अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर आगे बढ़ सकते है ।

इस वाद-विवाद प्रतियोगिता में ऑनलाइन शिक्षा के लाभ में प्रथम स्थान पाया जूनियर हाई खोदना खुर्द से आदित्य ने , दूसरा स्थान पाया प्राथमिक विद्यालय सोरखा से शैलेन्द्र ने और तीसरा स्थान पाया प्राथमिक विद्यालय बख्तावरपुर से आराध्या ने इसी तरह से ऑनलाइन शिक्षा की समस्याओं में प्रथम स्थान पाया उच्च प्राथमिक विद्यालय खोदना खुर्द से अर्चना ने , दूसरा स्थान पाया प्राथमिक विद्यालय सोरखा से संध्या ने और तीसरा स्थान पाया प्राथमिक विद्यालय सोरखा से पंकज ने । सभी विजेताओं को उनके ईनाम की घोषणा जूरी सदस्यो ने की बच्चे बहुत ही उत्साहित और खुश दिख रहे थे ।

कार्यक्रम के अंत में श्री पुष्पेन्द्र जी ने बच्चों को कहा कि जिन बच्चों का नाम प्रथम, द्वितीय , तृतीय स्थान पर नहीं आया है वो मायूस न हो और सब बच्चों को उन्होंने एक कविता सुनायी
सत्साहस दिखाने का अवसर चुनो,
जो हो राह कठिन आप उस को चुनो,
लोग तो कहेंगे बहुत सी भ्रांतियां,
तुम किसी की नहीं अपने मन की सुनो।